*******बड़े बडे मुद्दों की बड़ी बड़ी सच्चाई*******

****सीन 1****नेता का कार्यालय….
सचिव: सर कल आपको @##@$# गाँव में सामूहिक विवाह के कार्यक्रम में जाना है ,आशीर्वाद के बाद भोजन का भी आयोजन हैं 

नेता : अरे भाई ,जाना जरूरी है क्या ?

सचिव : सर,चुनाव सर पर हैं और वहां आपका तगडा वोट बैंक है।

नेता: अबे यार, समझा करो , हम  वहां @#$##@ के बीच बैठकर खाना खायेंगे क्या? हमें तेल की पूडी हज़म नहीं होगी। 
अच्छा तुम कह देना हमारा एकादशी का व्रत है। 
समानता और समाजवाद का प्रवचन सिर्फ जनता के लिए होता है अमीरी-गरीबी का भेद वो करते हैं जो भाषण में गरीबों का उद्धार करने की बातें करते हैं!!!!!!!
★◆★◆★◆
****सीन 2*****ट्रैन के जनरल कम्पार्टमेंट में बैठे मौलाना ने बगल के मुसाफ़िर से “सलाम वालेकुम” कहा
मुसाफ़िर :”वालेकुम असलाम” 

(थोड़ी देर बाद टाइम पास के उद्देश्य से मुसाफिर ने फिर बातचीत शुरू करी)

मुसाफ़िर: मौलाना साहब, जन्नत कौन जायेंगे?

मौलाना:जाहिर है मुसलमान
मुसाफ़िर: शिया या सुन्नी

मौलाना: बेशक सुन्नी
मुसाफ़िर: कौन से सुन्नी? मुकल्लिद या गैर मुकल्लिद?

मौलाना: मुकल्लिद 
मुसाफ़िर: मुकल्लिद में तो चार हैं तो कौनसे वाले?

मौलाना: हनफ़ी
मुसाफ़िर: हनफी में देवबंदी या बरेलवी में से कौन?

मौलाना: देवबंदी
मुसाफ़िर: देवबंदी में से हयाती या ममाती?

मौलाना चुप…… 
धार्मिक असहिष्णुता का आरोप कौन लगाता है ? क्योंकि हमारा जात पात दिख रहा है लेकिन इसका मतलब ये नहीं की बाकी जगह भेदभाव नहीं है।

★◆★◆★◆
*****सीन 3: *****UPSC परीक्षा हाल के बाहर का दृश्य
परीक्षार्थी परीक्षा के पहले पेडों के नीचे बैठे पन्ने पलट बचे समय का सदुपयोग कर रहे थे।

एक लड़की अपनी माँ के साथ बैठी थी ,लड़की ने पास बैठे लड़के से उसकी किताब देखने को माँगी। 

माँ ने बातचीत करने के उद्देश्य से लड़के से पुछा 
माताजी : “जनरल हो या रिजर्वेशन”

लड़का:  रिज़र्व में से है 

माताजी ( खुश होकर)  : ‘ हमारी लाली भी रिज़र्व से है।’

अगला सवाल”कौन जात हो?” 
लड़का” मैं तो लालबेगी (SC)हूँ ,और तुम लोग?”
माताजी  *छिटक कर)”हम रावल(SC) हैं’ ,छोरी किताब वापिस कर दे और जरा इधर को खिसक जा’

लेकिन छुआ छूत का आरोप हमेशा सवर्णों पर लगता है!!!
★◆★◆★
***सीन 4***शारजाह का एक छोटे से रेस्टुरेन्ट में मैं खाना खा रही थी
वेटर ने पुछा: मैडम आप कहाँ  से हैं ?

मैं: इंडिया से ,और तुम?

वेटर : केरला!!!

( मैं उससे पूछना चाहती थी की क्या केरला इंडिया का हिस्सा नहीं है)

दूसरा सवाल: इंडिया में किधर से?

मैं: लखनऊ

वेटर: लखनऊ किधर है?

मैं : यूपी में 

वेटर ::: ओह्ह, you mean north india 🤔🤔🤔
( अगर मैं साउथ इंडिया से होती तो वो शायद ज्यादा खुश होता)
मैं राष्ट्रवाद पर प्रान्तवाद का आधिपत्य देख हैरान थी😱

समझ नहीं आता की हमारी पहचान राष्ट्र से है,प्रान्त से है, धर्म से है, जाति से है ,कुल से है,गोत्र से है … ????या फिर हमारे आर्थिक स्तर से है ??????

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s